सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

Personal tools

[ en | hi ]
Klingspor
पिसाई तकनीक
होम (घर) / hi > अपघर्षक पर जानकारी > एक अपघर्षक डिस्क की कठोरता

एक अपघर्षक डिस्क की कठोरता

एक अपघर्षक डिस्क की मज़बूती का आंकलन उस डिस्क के जोड़ का दानों के स्फोटन के विरुद्ध प्रतिरोधक क्षमता से होता है.

एक काटने वाले पहिये या पीसने वाले डिस्क के जोड़ की कठोरता को इस्तेमाल किये जाने वाली कृत्रिम राल के साथ-साथ मिलाने वाले भराव पदार्थों से प्रभावित और समायोजित किया जा सकता है. DIN ISO 525 के अनुसार, काटने और पीसने वाली डिस्कों के जोड़ों की कठोरता को अंग्रेजी वर्णमाला के अक्षरों से (चिन्हों) से पहचाना जाता है. यह चिन्ह "A" (बहुत नरम) से लेकर "Z" (बहुत कठोर) तक अंकित हैं, यानी की जोड़ जितना कठोर होगा उसका स्थान वर्णमाला में पिछले अक्षर से बड़ा होगा.

काटने या पीसने वाले डिस्क का एक विशेष अनुप्रयोग के लिए उपयुक्त चयन करने के लिए एक सामान्य नियम है कि अपघर्षक के जोड़ की नरमी प्रसंस्करण किये जाने वाली सामग्री की कठोरता के अनुसार बढ़ती रहनी चाहिए.

यदि उपयोगकर्ता बहुत कठोर जोड़ का चयन करता है तो कार्य की प्रक्रिया के दौरान घिसे हुए और जड़ दानें सब्सट्रेट सामग्री से नहीं झड़ेंगें, जिसके परिणामस्वरूप डिस्क की आक्रामकता  में तेजी से कमी आ सकती है. इससे काटने के किनारे का ताप बहुत बढ़ सकता है, जिसके परिणामस्वरूप डिस्क का "विट्रीफिकेशन" हो सकता है और उसके काटने की कार्य-क्षमता बिलकुल शून्य हो सकती है.

यदि उपयोगकर्ता एक बहुत ही नरम जोड़ चुनता है, तो उसे अपघर्षक उपकरण की उच्चआक्रामकता  का लाभ मिलता है क्योंकि हमेशा ताज़े दानों का प्रयोग होता है, और इन सबके परिणामस्वरूप प्रसंस्करण का समय कम हो जाता है. पर इसके साथ-साथ ही, एक अत्यंत नरम जोड़ के उपयोग के परिणामस्वरूप उपकरण जल्दी जीर्ण हो जाता है और उसके सेवा जीवन में कमी आती है.


शब्द और परिभाषाओं पर वापिस जाएं
पिसाई संबंधित शब्द और परिभाषाओं को ब्राउज़ करें

Klingspor
सेवा विभाग

हॉटलाइन उत्पाद प्रबंधन


Fon +49 2773 922-456

Navigation Extended

Klingspor
सेवा विभाग

हॉटलाइन उत्पाद प्रबंधन


Fon +49 2773 922-456

Navigation Extended